Breaking News

काँग्रेस के आलाकमान बिहार काँग्रेस इकाई से नाराज,मदन मोहन झा समेत सभी बरिष्ठ काँग्रेसी दिल्ली तलब। | दरभंगा में गोपालजी ठाकुर बनाम सिद्दीकी,मधुबनी में अशोक यादव बनाम फातमी और झंझारपुर में रामप्रीत मंडल बनाम गुलाब यादव में मुकाबला तय। | राहुल गांधी के कड़े रुख पर बदल रही है महागठबंधन में सीटों का ताल मेल,कीर्ति के लिये दरभंगा या मधुबनी से संभावना बंकी। | दरभंगा की राजनीति में एक युग का हुआ अंत,कीर्ति और फातमी युग अंत के तरफ,संजय झा हासिये पर। | महागठबंधन रह गया बरकरार, काँग्रेस 9 और राजद 20 सीटों पर लड़ेगी चुनाव,दरभंगा कांग्रेस के खाते में। | महागठबंधन टूट के कगार पर,कीर्ति आजाद का दरभंगा से कट सकता है टिकट,सिद्दीकी या मुकेश सहनी उतर सकते मैदान में। | दरभंगा सीट पर एनडीए से कौन मारेगा बाजी:संजय झा,गोपालजी ठाकुर या फिर नीतीश मिश्रा,रस्साकस्सी जारी,फैसला आज शाम तक संभावित। | धुंआ और राख में तब्दील हुआ दरभंगा का झगरुआ गाँव, भीषण अग्नि कांड के भेंट चढ़ा 57 घर,जिंदा जला मासूम। | दरभंगा संसदीय सीट काँग्रेस के खाते में,संजय झा बनाम कीर्ति झा आजाद के बीच मुकाबला। | अब दरभंगा समाहरणालय के दीवारों पर दिखेगी मधुबनी पेंटिग |

दरभंगा की राजनीति में एक युग का हुआ अंत,कीर्ति और फातमी युग अंत के तरफ,संजय झा हासिये पर।

दरभंगा की राजनीति में एक युग का हुआ अंत,कीर्ति और फातमी युग अंत के तरफ,संजय झा हासिये पर।

 

टाइम्स ऑफ मिथिला न्यूज़दरभंगा की राजनीतिक पारा पिछले कुछ दिनों से चरम पर रही है।किस दल से किसे मिलेगा टिकट और कौन पड़ेगा किस पर भाड़ी जैसे राजनीतिक मुद्दों पर चल रहे बहस की शोर हर जगह सुनाई पड़ती रही।होली बीतने के साथ ही अब एनडीए और महागठबंधन के तरफ से दरभंगा को लेकर तस्वीर स्पष्ट होनी लगी है।राजनीति संभावनाओं का खेल है और जिस नेता के हाथों में राजयोग की लकीर जितनी प्रबल होती है ,वह नेता सत्ता सुख के उतना ही करीब होता है।टिकट के दावेदार तो अनेकों होते है पर सफलता किसी खास को ही हाथ लगती है।दरभंगा संसदीय सीट से टिकट के दौर में एनडीए के तरफ से सबसे प्रबल दावेदार जदयू के संजय झा और महागठबंधन से कीर्ति झा आजाद दोनों ही रेस से बाहर हो कर अन्य विकल्पों की तलाश में जुट गए है।कीर्ति आजाद को तो कांग्रेस ने राज्यसभा के नाम पर मना लिया पर संजय झा के लिये राजनीति में कठिन समय आता प्रतीत हो रहा है।
 
                               da
 
मुकेश सहनी बने महागठबंधन के उभरता सितारा
VIP पार्टी के मुकेश सहनी के हिस्से में दरभंगा आये या ना आये पर मुकेश सहनी ने गठबंधन में तीन सीट हासिल कर राजनीति को नए ढंग से परिभाषित करने की कोशिश किया है।2015 के विधानसभा चुनाव में भाजपा से सिर्फ गौड़ा बौराम के रूप में एक विधानसभा सीट प्राप्त कर राजनीतिक पारी आरम्भ करने बाले मुकेश सहनी चार साल बाद यानी 2019 में महागठबंधन में तीन लोकसभा सीट हासिल कर अपने तेजी से मजबूत होते राजनीतिक हैसियत को दर्शाया है।वही कांग्रेस जैसी पुरानी राष्ट्रीय स्तर की पार्टी ने बिहार में अपनी पहचान को फिर से फीका किया है।
 
                          sh
 
दरभंगा में गोपालजी ठाकुर बनाम अब्दुल बारी सिद्दीकी
एनडीए के तरफ से तो गोपालजी ठाकुर के नाम पर मुहर लग चुकी है पर महागठबंधन ने अभी तक किसी उम्मीदवार के नाम पर मुहर नही लगाया है।विश्वस्त सूत्रों के अनुसार राजद के अब्दुल बारी सिद्दीकी दरभंगा से महागठबंधन के उम्मीदवार बनने जा रहे है।दरभंगा और मधुबनी दोनों ही सीट राजद के खाते में चली गयी है।दरभंगा के मतदाताओं के समक्ष दोनों ही नए उम्मीदवार मैदान में है।फातमीजी मधुबनी से अपनी किस्मत आजमाने जा रहे है।इस तरह दरभंगा संसदीय क्षेत्र के विगत 25 सालों के राजनीतिक इतिहास की इतिश्री होने को है।
 
                             s

visitor counter